07एमएनपी-38-मुठभेड़ में पकड़ा गया आरोपी इश्तियाक

07एमएनपी-38-मुठभेड़ में पकड़ा गया आरोपी इश्तियाक
– फोटो : MAINPURI

ख़बर सुनें

बिछवां। सुन्नामई के पास संरक्षित पशु को मारने वाला 20 हजार का इनामी अपराधी सोमवार की शाम विद्यार्थीपुरम के पास पुलिस मुठभेड़ में घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस को देखकर उसने फायरिंग की थी। जंगल में करीब एक घंटा चली मुठभेड़ के दौरान उसके पैर में गोली लग गई, पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। कब्जा से तमंचा कारतूस मिले। एसपी और एएसपी ने घटनास्थल का निरीक्षण कर जानकारी ली।
थाना क्षेत्र में दो दिन पूर्व सुन्नामई स्टेडियम के पीछे एक संरक्षित पशु को मारने की घटना के बाद हिंदूवादी संगठनों में आक्रोश था। पुलिस लगातार आरोपियों की तलाश कर रही थी, सोमवार की शाम थानाध्यक्ष अमित सिंह को सूचना मिली कि जनपद एटा के नदराला निवासी इश्त्याक अली अपनी कार से क्षेत्र में देखा गया है। उस पर जसरथपुर थाना क्षेत्र में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। उस पर इनाम भी घोषित है, पुलिस ने जब घेराबंदी की तो इश्त्याक विद्यार्थीपुरम की ओर कार मोड़ कर भागने लगा, इस दौरान पीछा कर रही पुलिस टीम पर फायर भी किए। खुद को घिरता देख वह जंगल में भागने लगा। पुलिस ने घेराबंदी की, करीब एक घंटा तक चली मुठभेड़ के दौरान इश्त्याक पैर में गोली लगने घायल हो गया। सुन्नामई के पास प्रतिबंधित पशु को मारने वाले की गिरफ्तारी की सूचना पर एसपी कमलेश दीक्षित, एएसपी राजेश कुमार मौके पर पहुंच गए। इश्त्याक ने सुन्नामई के पास गैंग के साथ घटना करने की बात कबूल की। घायल को पुलिस ने इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया।
इश्त्याक एक शातिर अपराधी है, उस पर गोकशी, जानलेवा हमला, गैंगस्टर सहित करीब आठ मामले एटा के जसरथपुर थाना में दर्ज हैं। उसने ही अपने गैंग के साथियों के साथ प्रतिबंधित पशु की हत्या की थी। गिरफ्तारी पर 20 हजार का इनाम घोषित था।
कमलेश दीक्षित, एसपी मैनपुरी।

07एमएनपी-41-थाना बिछवां क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद घटनास्थल पर पड़ा तमंचा

07एमएनपी-41-थाना बिछवां क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद घटनास्थल पर पड़ा तमंचा– फोटो : MAINPURI

बिछवां। सुन्नामई के पास संरक्षित पशु को मारने वाला 20 हजार का इनामी अपराधी सोमवार की शाम विद्यार्थीपुरम के पास पुलिस मुठभेड़ में घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस को देखकर उसने फायरिंग की थी। जंगल में करीब एक घंटा चली मुठभेड़ के दौरान उसके पैर में गोली लग गई, पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। कब्जा से तमंचा कारतूस मिले। एसपी और एएसपी ने घटनास्थल का निरीक्षण कर जानकारी ली।

थाना क्षेत्र में दो दिन पूर्व सुन्नामई स्टेडियम के पीछे एक संरक्षित पशु को मारने की घटना के बाद हिंदूवादी संगठनों में आक्रोश था। पुलिस लगातार आरोपियों की तलाश कर रही थी, सोमवार की शाम थानाध्यक्ष अमित सिंह को सूचना मिली कि जनपद एटा के नदराला निवासी इश्त्याक अली अपनी कार से क्षेत्र में देखा गया है। उस पर जसरथपुर थाना क्षेत्र में कई आपराधिक मामले दर्ज हैं। उस पर इनाम भी घोषित है, पुलिस ने जब घेराबंदी की तो इश्त्याक विद्यार्थीपुरम की ओर कार मोड़ कर भागने लगा, इस दौरान पीछा कर रही पुलिस टीम पर फायर भी किए। खुद को घिरता देख वह जंगल में भागने लगा। पुलिस ने घेराबंदी की, करीब एक घंटा तक चली मुठभेड़ के दौरान इश्त्याक पैर में गोली लगने घायल हो गया। सुन्नामई के पास प्रतिबंधित पशु को मारने वाले की गिरफ्तारी की सूचना पर एसपी कमलेश दीक्षित, एएसपी राजेश कुमार मौके पर पहुंच गए। इश्त्याक ने सुन्नामई के पास गैंग के साथ घटना करने की बात कबूल की। घायल को पुलिस ने इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

इश्त्याक एक शातिर अपराधी है, उस पर गोकशी, जानलेवा हमला, गैंगस्टर सहित करीब आठ मामले एटा के जसरथपुर थाना में दर्ज हैं। उसने ही अपने गैंग के साथियों के साथ प्रतिबंधित पशु की हत्या की थी। गिरफ्तारी पर 20 हजार का इनाम घोषित था।

कमलेश दीक्षित, एसपी मैनपुरी।

07एमएनपी-41-थाना बिछवां क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद घटनास्थल पर पड़ा तमंचा

07एमएनपी-41-थाना बिछवां क्षेत्र में मुठभेड़ के बाद घटनास्थल पर पड़ा तमंचा– फोटो : MAINPURI





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: