उत्तर प्रदेश जालौन

छल के लिए दस्तावेजों की रचना में पंचायत सचिव पर मुकदमा

गरीब ग्रामीणों का हक छीनने की मिलेगी सजा

उरई (जालौन)(.गोविंद सिंह दाऊ):- ।गरीब ग्रामीण का हक छीनने एवं शिकायतों पर हुई जांच में कूट रचित विल व छल के प्रयोग के लिए कूट रचित दस्तावेजों का उपयोग करने में ग्राम पंचायत सचिव के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया गया है।
रामपुरा थाना अंतर्गत ग्राम हमीरपुरा के पंचायत सचिव केशव कांत त्रिपाठी वैसे तो भ्रष्ट आचरण का व्यक्ति है ग्राम पंचायत जगम्मनपुर में भी सचिव पद पर कार्य करते समय उसने तमाम अनियमितताएं की थी जिसकी शिकायत ग्राम प्रधान राहुल मिश्रा ने शासन तथा प्रशासन के उच्चाधिकारियों से भी की थी लेकिन कुछ राजनीतिक संरक्षकों ने उसे बचा लिया इसके बावजूद वह अपनी आदतों से बाज नहीं आया और उसने ग्राम पंचायत हमीरपुर में भी आवास वितरण में घोटाला कर दिया। ज्ञात हो ग्राम पंचायत सचिव केशव कांत ने राजेंद्र कुमार पुत्र राम दयाल लक्षकार के नाम का आवास किसी अन्य व्यक्ति के नाम वितरण दिखाकर घोटाला किया इस प्रकार के और भी कई घोटाले उसने ग्राम पंचायत हमीरपुरा में किए जिस की शिकायतें भी ग्राम पंचायत सचिव के विरुद्ध हुई । इस मामले की जांच के लिए आए अधिकारियों को बरगलाने की नियत से उसने छल के प्रयोग हेतु कूट रचना भी व कूट रचित दस्तावेजों को असली के रूप में प्रयोग करने का छल किया । इस प्रकरण में जांच में दोषी पाए जाने के बाद थाना रामपुरा में भारतीय दंड संहिता की धारा 420, 467 ,468 ,471 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है।