उत्तर प्रदेश जालौन

उगते चिराग का शव देख मां हुई वेहोश : गांव में मचा कोहराम

रामपुरा (जालौन :- (नरेन्द्र सिंह):-जगम्मनपुर (जालौन )। गरीब ग्रामीण के घर में उस समय कोहराम मच गया जब उसके घर का कमाऊ जवान बेटा लाश में तब्दील होकर एंम्बुलेंश गाड़ी से उतारा गया।
बाकया रामपुरा थाना क्षेत्र के ग्राम उदोतपुरा का है जहां का कमलेश पाल उम्र ३५ बर्ष स्वर्गीय घमंडी पाल अपने बड़े भाई राजेश पाल के साथ खेला खाया पढ़ लिखकर बड़ा हुआ और शादी व दो संतानों एक पुत्र एक पुत्री का पिता बनने के बाद रोजी रोटी के लिए दूर देश आंध्र प्रदेश जाकर पकोड़ी बनाकर बेचने का धंधा करने लगा । अभी अपनी मां के बुलावे पर सपरिवार अपने गांव उदोतपुरा आया था और कुछ दिन रुक कर अपनी वृद्ध मां से पुनः शीघ्र आने का वादा कर पत्नी व बच्चो के साथ 4 मई को अपने धन्धा करने वाले स्थान आंध्र प्रदेश के लिए रवाना हो गया। ट्रेन में रिजर्वेशन न मिल पाने के कारण वह जनरल वौगी का टिकट लेकर यात्रा कर रहा था। ट्रेन की बोगी में अधिक भीड होने के कारण अपनी पत्नी वह बच्चों को बीच गैलरी में बैठाकर स्वयं दरवाजे पर बैठकर यात्रा करने लगा। हैदराबाद से लगभग 80 किलोमीटर आंगे उसे नींद आ गई और वह बोगी से पटरियों के पास गिर गया जहां आंध्र प्रदेश पुलिस ले उसे मृत अवस्था में उठाया । साथ सफर कर रही पत्नी ने घटनास्थल से लगभग 100 किलोमीटर दूर जाकर अपने पति को ट्रेन की बोगी में न पाकर खोजना प्रारंभ कर न मिलने पर हंगामा खडा कर दिया। अगले स्टेशन पर जाकर पता लगा कि लगभग कि १०० किलोमीटर पीछे किसी व्यक्ति की लाश पटरियों के पास पड़ी मिली है । वापस आकर पत्नी ने अपने पति कमलेश के रूप में शव की शिनाख्त की । घटना की सूचना जनपद जालौन (उत्तर प्रदेश) के रामपुरा थाना अन्तर्गत उदोतपूरा गांव में उसके भाई राजेश पाल को दी गई । आज बुधवार की वीती रात एंबुलेंस से मृतक कमलेश का शव उदोतपुरा गांव में आया तो कोहराम मच गया । गांव के हर बुजुर्ग , जवान पुरुष, महिला की आंख नम थी । उसकी मां अपने जवान बेटे के शव एकटक देख निःशब्द व विवेक शून्य हो बार-बार बेहोश हो रही थी ।आज सुबह हिंदू रीति-रिवाज के साथ मृतक कमलेश पाल का अंतिम संस्कार कर दिया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *