ख़बर सुनें

अयोध्या। चौदहकोसी परिक्रमा की शुरूआत में ही मंगलवार रात करीब 1:30 बजे बजे हनुमानगुफा के पास संकरे परिक्रमा पथ पर एकाएक श्रद्धालुओं का दबाव बढ़ने से एक वृद्ध महिला भीड़ में गश खाकर गिर गई। इस दौरान मची अफरातफरी में सात और श्रद्धालु गिर गए।
देखते ही देखते कई लोग उसके ऊपर से गुजर गए। वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों ने भीड़ को रोककर गिरे लोगों को निकाल कर श्रीराम अस्पताल पहुंचाया।
इसमें से चार को जिला अस्पताल और गंभीर रूप से घायल बुजुर्ग महिला श्रद्धालु को लखनऊ रेफर कर दिया गया। तीन को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया। पुलिस का दावा है कि पांच लोग घायल हुए हैं।
चौदहकोसी परिक्रमा रात करीब 12:48 बजे शुरू होनी थी लेकिन इससे पहले ही श्रद्धालुओं ने परिक्रमा शुरू कर दी थी। रात करीब 1:30 बजे हनुमान गुफा मोड़ के पास अचानक भीड़ का दबाव बढ़ गया।
स्थान संकरा होने के कारण एक बुजुर्ग महिला गश खाकर जमीन पर गिर गई। इससे अफरातफरी मच गई। इससे सात और श्रद्धालु गिर गए। दौरान कई लोग महिला के ऊपर भी चढ़ गए।
यह देख वहां तैनात पुलिसकर्मियों ने मुख्य मार्ग से हनुमान गुफा जाने वाले मार्ग पर परिक्रमार्थियों को जाने से रोक दिया। भीड़ कम हुई तो वहां आठ श्रद्धालु घायल पड़े मिले।
जिन्हें श्रीराम अस्पताल पहुंचाया गया। यहां से पांच महिला श्रद्धालुओं को जिला अस्पताल रेफर दिया गया, जबकि अन्य को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया।
घायलों की पहचान बिट्टी (70) पत्नी साधु राम अवस्थी निवासी किशनगंज जिला बहराइच, रामादेवी (70) पत्नी आज्ञाराम त्रिवेदी निवासी नतोहरा बहराइच, कीर्ति कुमारी (40) पत्नी राम नरेश मिश्रा निवासी पखरपुर बहराइच, कल्याना (60) पत्नी रामकेवल आयु निवासी रामापुर थाना फखरपुर बहराइच, सावित्री (60) पत्नी सुंदरलाल निवासी नवसहरा बहराइच शामिल हैं।
इनमें से गंभीर रूप से घायल सावित्री को लखनऊ ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया है। सीओ अयोध्या डॉ.राजेेश तिवारी ने बताया कि भीड़ का दबाव बढ़ने के कारण हादसा हुआ है।
स्थिति को बहुत जल्द ही नियंत्रित कर लिया गया और परिक्रमा का संचालन होता रहा। घटना में पांच श्रद्धालु घायल हुए हैं। परिक्रमा में हादसे का शिकार रामादेवी ने बताया कि परिक्रमा के दरमियान पीछे से भीड़ का दबाव बना था।
एक वृद्धा गश खाकर गिर पड़ी। उसके बाद मेरे समेत चार और महिलाएं गिर गईं। परिक्रमा कर रहे लोग हम लोगों के ऊपर से गुजर गए। स्थानीय लोगों ने हम लोगों को बचाया। रामादेवी के मुताबिक लगभग रात्रि 1:30 बजे की घटना है।
घटना की शिकार कीर्ति ने बताया कि पुलिस ने भीड़ को रोका था, पीछे से भीड़ का दबाव आया। जिसके बाद हम लोग गिर पड़े। हम लोगों ने अपनी जान बचाने के लिए बहुत गुहार लगाई।

अयोध्या। चौदहकोसी परिक्रमा की शुरूआत में ही मंगलवार रात करीब 1:30 बजे बजे हनुमानगुफा के पास संकरे परिक्रमा पथ पर एकाएक श्रद्धालुओं का दबाव बढ़ने से एक वृद्ध महिला भीड़ में गश खाकर गिर गई। इस दौरान मची अफरातफरी में सात और श्रद्धालु गिर गए।

देखते ही देखते कई लोग उसके ऊपर से गुजर गए। वहां तैनात सुरक्षाकर्मियों ने भीड़ को रोककर गिरे लोगों को निकाल कर श्रीराम अस्पताल पहुंचाया।

इसमें से चार को जिला अस्पताल और गंभीर रूप से घायल बुजुर्ग महिला श्रद्धालु को लखनऊ रेफर कर दिया गया। तीन को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया। पुलिस का दावा है कि पांच लोग घायल हुए हैं।

चौदहकोसी परिक्रमा रात करीब 12:48 बजे शुरू होनी थी लेकिन इससे पहले ही श्रद्धालुओं ने परिक्रमा शुरू कर दी थी। रात करीब 1:30 बजे हनुमान गुफा मोड़ के पास अचानक भीड़ का दबाव बढ़ गया।

स्थान संकरा होने के कारण एक बुजुर्ग महिला गश खाकर जमीन पर गिर गई। इससे अफरातफरी मच गई। इससे सात और श्रद्धालु गिर गए। दौरान कई लोग महिला के ऊपर भी चढ़ गए।

यह देख वहां तैनात पुलिसकर्मियों ने मुख्य मार्ग से हनुमान गुफा जाने वाले मार्ग पर परिक्रमार्थियों को जाने से रोक दिया। भीड़ कम हुई तो वहां आठ श्रद्धालु घायल पड़े मिले।

जिन्हें श्रीराम अस्पताल पहुंचाया गया। यहां से पांच महिला श्रद्धालुओं को जिला अस्पताल रेफर दिया गया, जबकि अन्य को प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया।

घायलों की पहचान बिट्टी (70) पत्नी साधु राम अवस्थी निवासी किशनगंज जिला बहराइच, रामादेवी (70) पत्नी आज्ञाराम त्रिवेदी निवासी नतोहरा बहराइच, कीर्ति कुमारी (40) पत्नी राम नरेश मिश्रा निवासी पखरपुर बहराइच, कल्याना (60) पत्नी रामकेवल आयु निवासी रामापुर थाना फखरपुर बहराइच, सावित्री (60) पत्नी सुंदरलाल निवासी नवसहरा बहराइच शामिल हैं।

इनमें से गंभीर रूप से घायल सावित्री को लखनऊ ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया है। सीओ अयोध्या डॉ.राजेेश तिवारी ने बताया कि भीड़ का दबाव बढ़ने के कारण हादसा हुआ है।

स्थिति को बहुत जल्द ही नियंत्रित कर लिया गया और परिक्रमा का संचालन होता रहा। घटना में पांच श्रद्धालु घायल हुए हैं। परिक्रमा में हादसे का शिकार रामादेवी ने बताया कि परिक्रमा के दरमियान पीछे से भीड़ का दबाव बना था।

एक वृद्धा गश खाकर गिर पड़ी। उसके बाद मेरे समेत चार और महिलाएं गिर गईं। परिक्रमा कर रहे लोग हम लोगों के ऊपर से गुजर गए। स्थानीय लोगों ने हम लोगों को बचाया। रामादेवी के मुताबिक लगभग रात्रि 1:30 बजे की घटना है।

घटना की शिकार कीर्ति ने बताया कि पुलिस ने भीड़ को रोका था, पीछे से भीड़ का दबाव आया। जिसके बाद हम लोग गिर पड़े। हम लोगों ने अपनी जान बचाने के लिए बहुत गुहार लगाई।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: