सांड (फाइल फोटो)

सांड (फाइल फोटो)
– फोटो : amar ujala

ख़बर सुनें

आगरा के जैतपुर के संजेती गांव में सोमवार की सुबह घर में घुसे सांड़ को भगाते समय टक्कर लगने से कच्चे मकान की दीवार गिर गई। मलबे में दबने से महिला की मौत हो गई। घटना के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। 

संजेती गांव के दामोदर ने पुलिस को बताया कि सोमवार को सुबह उसके कच्चे मकान में सांड़ घुस आया था। उनकी पत्नी सरोज उसे भगाने के लिए कमरे में घुस गई। वह सांड़ को बाहर निकाल रही थी, इसी दौरान सांड ने दीवार में टक्कर मार दी। इससे दीवार गिर गई और मलबे में सरोज दब गई। चीख पुकार पर पहुंचे लोग जब तक मलबा हटाते सरोज की सांसे थम चुकी थीं। सूचना पर जैतपुर पुलिस और मायके वाले भी पहुंचे। मायके वालों ने गांव में हंगामा भी किया। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

 मां की मौत से अनजान तीन मासूम

सरोज की मौत से 3 मासूम बेटियां दिव्या (5), रागिनी (3), नंदनी (8 माह) अनजान हैं। घर में मची चीख पुकार के बीच परिजन को ढांढस बंधाने के लिए पहुंच रहे लोग मासूमों को देखकर भावुक हो उठते हैं। सिर से मां का साया छिनने के बाद मासूमों की परिवरिश को लेकर भी परिजन चिंतित हैं।

विस्तार

आगरा के जैतपुर के संजेती गांव में सोमवार की सुबह घर में घुसे सांड़ को भगाते समय टक्कर लगने से कच्चे मकान की दीवार गिर गई। मलबे में दबने से महिला की मौत हो गई। घटना के बाद मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिला के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। 

संजेती गांव के दामोदर ने पुलिस को बताया कि सोमवार को सुबह उसके कच्चे मकान में सांड़ घुस आया था। उनकी पत्नी सरोज उसे भगाने के लिए कमरे में घुस गई। वह सांड़ को बाहर निकाल रही थी, इसी दौरान सांड ने दीवार में टक्कर मार दी। इससे दीवार गिर गई और मलबे में सरोज दब गई। चीख पुकार पर पहुंचे लोग जब तक मलबा हटाते सरोज की सांसे थम चुकी थीं। सूचना पर जैतपुर पुलिस और मायके वाले भी पहुंचे। मायके वालों ने गांव में हंगामा भी किया। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

 मां की मौत से अनजान तीन मासूम

सरोज की मौत से 3 मासूम बेटियां दिव्या (5), रागिनी (3), नंदनी (8 माह) अनजान हैं। घर में मची चीख पुकार के बीच परिजन को ढांढस बंधाने के लिए पहुंच रहे लोग मासूमों को देखकर भावुक हो उठते हैं। सिर से मां का साया छिनने के बाद मासूमों की परिवरिश को लेकर भी परिजन चिंतित हैं।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: