घटनास्थल पर जांच करती पुलिस

घटनास्थल पर जांच करती पुलिस
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

वृंदावन में आश्रम के समीप शुक्रवार की सुबह दो महिलाओं के शव मिलने से सनसनी फैल गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर के पोस्टमार्टम के लिए भेजा। महिलाओं की मौत कैसे हुई, यह अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। पुलिस जांच में जुटी है।

तीर्थनगरी की संत कॉलोनी में एक आश्रम है। शुक्रवार की सुबह आश्रम से करीब 100 मीटर दूरी पर दो महिलाओं के शव मिले। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा कर मामले की जांच शुरू कर दी। 

Mathura: कथावाचक अनिरुद्धाचार्य का विवादों से पुराना नाता, माता सीता और द्रौपदी पर टिप्पणी कर बुरे फंसे

दोनों महिलाओं की पहचान 61 वर्षीय चंपा गुप्ता निवासी लखनऊ और 68 वर्षीय सुशीला देवी निवासी बिहार के रूप में हुई है। हालांकि अभी तक महिलाओं की मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों की जानकारी हो सकेगी। 

आश्रम प्रबंधन पर लगा आरोप 

स्थानीय लोगों ने इन महिलाओं की मौत का जिम्मेदार एक आश्रम प्रबंधन को बताया। बाबा मनमोहन दास ने बताया कि आश्रम में महिलाओं की सेवा, भोजन वितरण आदि सेवाओं का प्रचार प्रसार तो खूब किया जाता है, लेकिन आश्रम में कथा सुनने आने वाले भक्तों के विश्राम की कोई व्यवस्था तक नहीं की जाती है। 

आरोप है कि आश्रम में रात में श्रद्धालुओं को रुकने तक नहीं दिया जाता। आश्रम के लोग महिलाओं को पीटकर बाहर भगा देते हैं, जिससे श्रद्धालुओं को बाहर सोना पड़ता है। वृंदावन कोतवाली प्रभारी सूरज प्रकाश शर्मा ने बताया कि मृतकों के परिवारवालों को सूचना दे दी गई है। उनके आने के बाद ही पोस्टमार्टम कराया जाएगा। 

विस्तार

वृंदावन में आश्रम के समीप शुक्रवार की सुबह दो महिलाओं के शव मिलने से सनसनी फैल गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर के पोस्टमार्टम के लिए भेजा। महिलाओं की मौत कैसे हुई, यह अभी स्पष्ट नहीं हुआ है। पुलिस जांच में जुटी है।

तीर्थनगरी की संत कॉलोनी में एक आश्रम है। शुक्रवार की सुबह आश्रम से करीब 100 मीटर दूरी पर दो महिलाओं के शव मिले। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा कर मामले की जांच शुरू कर दी। 

Mathura: कथावाचक अनिरुद्धाचार्य का विवादों से पुराना नाता, माता सीता और द्रौपदी पर टिप्पणी कर बुरे फंसे

दोनों महिलाओं की पहचान 61 वर्षीय चंपा गुप्ता निवासी लखनऊ और 68 वर्षीय सुशीला देवी निवासी बिहार के रूप में हुई है। हालांकि अभी तक महिलाओं की मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो पाया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों की जानकारी हो सकेगी। 





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: