० युवक के परिजनों ने एसपी को सौपा शिकायती पत्र, निष्पक्ष जांच की मांग उठाई
उरई (जालौन)। कदौरा थाना क्षेत्र के अंर्तगत ग्राम बबीना में एक युवक पर फर्जी छेडख़ानी का मुकदमा दर्ज करवाने का आरोप लगाते हुए युवक के परिजनों ने एसपी को शिकायती पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है।
भारतीय रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव मनोज अहिरवार के नेतृत्व में पीड़ित शीला देवी पत्नी चंद्रपाल, चंद्रपाल, शीला देवी, संतोषी, देवनारायण, बाबादीन, राजेन्द्र कुमार, ओमप्रकाश, रामसेवक, महेश, नत्थू, प्रागी, शिवकुमार आदि निवासी ग्राम बबीना थाना कदौरा ने आज गुरुवार को डीएम एवं पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देते हुए बताया कि प्रार्थनी का पुत्र अमित उरई में रहकर बीए शिक्षा प्राप्त कर रहा है। यह भी बताया कि विगत 3 मई को पड़ोस में रहने वाले स्वजातीय महेश्वरीदीन पुत्र हीरा कोरी निवासी ग्राम बबीना जो पीआरडी में नौकरी करता है जिसने थाने मेंं तहरीर देकर मेरे पुत्र अमित के विरुद्ध अपनी नातिन को लेकर छेड़खानी का मुकदमा 5 मई को दर्ज करवाया है जो कि घटना असत्य और झूठी है। पीड़ित शीला देवी यह भी बताया कि 3 मई को मेरा पुत्र पड़ोसी के लड़के कृशानु कंचन पुत्र स्व. नारायण दास चौधरी की शादी-बारात में ग्राम भरखरी विवार जिला हमीरपुर गया हुआ था जो बारात से वापिस अपनी बुआ-फूफा ओमप्रकाश पुत्र रामाधीन ग्राम स्वासा बुजुर्ग हमीरपुर के यहां रुक गया वहां 4 मई को घर बबीना आया तथा 5 मई को दरोगा जी घर आये तथा बगैर किसी जानकारी के मेरे पुत्र को थाने ले गये तथा 6 मई को उसे जेल भेज दिया। जबकि गांव में ऐसी कोई घटना घटित नहीं हुई है जबकि महेश्वरीदीन पीआरडी कर्मी ने थाना प्रभारी कदौरा को गुमराह करके मुकदमा लिखवाया है प्रार्थनी घटना की जांच करवाने के लिए तैयार है प्रार्थनी के पुत्र के बीए के कुछ पेपर होना बाकी है जिसके मोबाइल फोन की लोकेशन से भी जांच की जा सकती है मामले की जांच सक्षम अधिकारी से करवाये जाने की मांग एसपी से उठाई है। एसपी ने मामले की जांच के आदेश सीओ कालपी को दिये है।

0Shares

Leave a Reply

%d bloggers like this: