मथुरा : भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद व कांग्रे

मथुरा : भारत जोड़ो यात्रा को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद व कांग्रे
– फोटो : VRINDAVAN

ख़बर सुनें

मथुरा। भाजपा को सलमान के नाम से तकलीफ है कि राम के नाम से। भगवान राम का नाम मैंने लिया है, मैं गर्व से कहता हूं कि भगवान राम का नाम मैंने लिया। श्रीकृष्ण का नाम भी मैं ले सकता हूं। यह बात कांग्रेस नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने बृहस्पतिवार को कही।
मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि अपना मजहब कुछ भी, परंतु एक देश और भारतीयता की भावना व आस्था भी है। देश में जो लोग बहुसंख्यक हैं, उनकी आस्था का सम्मान मैं करूं तो किसी को ठेस क्यों लगती हैं। सम्मान करने को भी वह अपमान मानते हैं।
उन्होंने कहा कि सम्मान के जो शब्द हैैं मैं शब्द इस्तेमाल करूंगा, लेकिन वह मुझे यह न बताएं कि तुम भगवान से संबंधित नहीं हो सकते। भगवान सबके हैं, ईश्वर अल्लाह तेरो नाम, सबको सन्मति दें भगवान। यह सीख हमें किसने सिखाई महात्मा गांधी ने, हम उसी सीख पर चलते हैं। जो स्क्रिप्ट भाजपा की है उस पर हम नहीं चलते हैं। मुझे गर्व है कि मैंने भगवान राम का नाम लिया, मैंने भगवान राम की जीवनी से प्रेरित होकर ये कहा कि जैसे उनका संदेश खड़ाऊं से जाता था, उसी प्रकार अपने नेता का संदेश खड़ाऊं से लेकर आया हूं। उन्होंने अयोध्या में भगवान राम के दर्शन करने के प्रश्न पर कहा कि क्या उन्हाेंने अयोध्या मेें हमारे नेताओं को किसी ने बुलाने का प्रयास किया। हम तो कहते थे कि बैठकर समझौता कर लो भाई लेकिन बैठकर समझौता नहीं हुआ। जब निर्णय आया सुप्रीम कोर्ट का तो हमने वह निर्णय स्वीकार किया।
श्री कृष्ण जन्मस्थान-ईदगाह प्रकरण पर बोलते हुए कहा कि अदालत ने अभी अमीन रिपोर्ट का आदेश किया है लेकिन सर्वे और अमीन रिपोर्ट में अंतर होता है। कोर्ट जो भी निर्देश देगा, उस पर पालन होगा। मैं कह सकता हूं कि मथुरा के लोग भी चाहते हैं कि सौहार्र्द बना रहे। मंदिर-मस्जिद का झगड़ा न हो, मथुरा के लोग चाहते हैं कि गंगा जमुनी तहजीब बनी रहे।
भारत जोड़ो यात्रा लोगों की तकलीफ जानने के लिए
संवाद न्यूज एजेंसी
मथुरा। भारत जोड़ो यात्रा का संदेश लेकर पहुंचे कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद ने एक होटल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा किकांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ३ जनवरी को सुबह उत्तर प्रदेश के लोनी पहुंचेगी। उन्हें २६ जनवरी को कश्मीर पहुंचना है। भारत जोड़ो यात्रा नौजवान, मजदूर, गरीब की तकलीफ जानने के लिए हैं।
उन्होंने कहा कि इस समय आवश्यकता है कि हम भारत को जोड़कर रखें, उम्मीद है कि प्रत्येक जिले से लोग अवश्य पहुंचेंगे। हम भारत को जोड़कर रखें। उन्होंने कहा कि संगठन को राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगेे मजबूत कर रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष ब्रजलाल खाबरी ने बताया कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार का रवैया पिछड्ऱों के हित में नहीं है। वह नहीं चाहती है कि पिछड़ों को हक मिले। कांग्रेस पार्टी आगे बढ़कर पिछड़ों के साथ खड़ी है। चाहे उसे सुप्रीम कोर्ट तक जाना पड़े। भाजपा सरकार निकाय चुनाव को लटकाना चाहती है। उसने जो स्मार्ट सिटी के नाम पर करोड़ों रुपये का भ्रष्टाचार किया है, उससे जनता खफा है। ऐसे में चुनाव को टालकर पहले उन कामों को कराएगी। उन्हें राहुल गांधी की यात्रा से डर है।
पूर्व सीएलपी लीडर प्रदीप माथुर ने बताया कि मथुरा से करीब दो हजार कांग्रेसी राहुल गांधी की पदयात्रा में तीन जनवरी को लोनी पहुंचेंगे। पत्रकार वार्ता में प्रांतीय अध्यक्ष योगेश दीक्षित, जिला प्रभारी योगेश तालान, श्याम सुंदर उपाध्याय बिटूटू, जिलाध्यक्ष भगवान सिंह वर्मा आदि मौजूद रहे।
पिस्टल प्रकरण ठंडे बस्ते में
मथुरा। पदयात्रा में बड़े नेताओं के सामने हाथापाई और पिस्टल तक लहराने की घटना अब ठंडे बस्ते में चली गई है। प्रदेश अध्यक्ष ब्रजलाल खाबरी ने मामले को यह कह कर पल्ला झाड़ लिया कि बहुत बड़ा परिवार है, मेरे सामने कुछ नहीं हुआ। मामला अनुशासन समिति के पास है। वहीं प्रांतीय अध्यक्ष योगेश दीक्षित ने भी कहा कि जो भी घटना हुई उसके संबंध में अभी किसी को कोई पत्र जारी नहीं हुआ है। मुझे इस बारे में किसी ने बताया भी नहीं। जो भी होगा उसकी जानकारी दी जाएगी। उधर, जिन दोनों पक्षों में स्वागत को लेकर विवाद हुआ था, वह दोनों पक्ष प्रेस वार्ता में पहुंचे और प्रदेश अध्यक्ष ब्रजलाल खाबरी को बुके भी भेंट किए। युवक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष यतेन्द्र मकुद्दम ने बताया कि उनका एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष हरीश पचौरी के साथ कोई विवाद नहीं हुआ। हरीश पचौरी ने भी इसकी पुष्टि की। अशोक चकलेश्वर ने कहा कि मेरा तो झगड़े से कोई वास्ता नहीं था।

मथुरा। भाजपा को सलमान के नाम से तकलीफ है कि राम के नाम से। भगवान राम का नाम मैंने लिया है, मैं गर्व से कहता हूं कि भगवान राम का नाम मैंने लिया। श्रीकृष्ण का नाम भी मैं ले सकता हूं। यह बात कांग्रेस नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद ने बृहस्पतिवार को कही।

मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि अपना मजहब कुछ भी, परंतु एक देश और भारतीयता की भावना व आस्था भी है। देश में जो लोग बहुसंख्यक हैं, उनकी आस्था का सम्मान मैं करूं तो किसी को ठेस क्यों लगती हैं। सम्मान करने को भी वह अपमान मानते हैं।

उन्होंने कहा कि सम्मान के जो शब्द हैैं मैं शब्द इस्तेमाल करूंगा, लेकिन वह मुझे यह न बताएं कि तुम भगवान से संबंधित नहीं हो सकते। भगवान सबके हैं, ईश्वर अल्लाह तेरो नाम, सबको सन्मति दें भगवान। यह सीख हमें किसने सिखाई महात्मा गांधी ने, हम उसी सीख पर चलते हैं। जो स्क्रिप्ट भाजपा की है उस पर हम नहीं चलते हैं। मुझे गर्व है कि मैंने भगवान राम का नाम लिया, मैंने भगवान राम की जीवनी से प्रेरित होकर ये कहा कि जैसे उनका संदेश खड़ाऊं से जाता था, उसी प्रकार अपने नेता का संदेश खड़ाऊं से लेकर आया हूं। उन्होंने अयोध्या में भगवान राम के दर्शन करने के प्रश्न पर कहा कि क्या उन्हाेंने अयोध्या मेें हमारे नेताओं को किसी ने बुलाने का प्रयास किया। हम तो कहते थे कि बैठकर समझौता कर लो भाई लेकिन बैठकर समझौता नहीं हुआ। जब निर्णय आया सुप्रीम कोर्ट का तो हमने वह निर्णय स्वीकार किया।

श्री कृष्ण जन्मस्थान-ईदगाह प्रकरण पर बोलते हुए कहा कि अदालत ने अभी अमीन रिपोर्ट का आदेश किया है लेकिन सर्वे और अमीन रिपोर्ट में अंतर होता है। कोर्ट जो भी निर्देश देगा, उस पर पालन होगा। मैं कह सकता हूं कि मथुरा के लोग भी चाहते हैं कि सौहार्र्द बना रहे। मंदिर-मस्जिद का झगड़ा न हो, मथुरा के लोग चाहते हैं कि गंगा जमुनी तहजीब बनी रहे।

भारत जोड़ो यात्रा लोगों की तकलीफ जानने के लिए

संवाद न्यूज एजेंसी

मथुरा। भारत जोड़ो यात्रा का संदेश लेकर पहुंचे कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद ने एक होटल में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा किकांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ३ जनवरी को सुबह उत्तर प्रदेश के लोनी पहुंचेगी। उन्हें २६ जनवरी को कश्मीर पहुंचना है। भारत जोड़ो यात्रा नौजवान, मजदूर, गरीब की तकलीफ जानने के लिए हैं।

उन्होंने कहा कि इस समय आवश्यकता है कि हम भारत को जोड़कर रखें, उम्मीद है कि प्रत्येक जिले से लोग अवश्य पहुंचेंगे। हम भारत को जोड़कर रखें। उन्होंने कहा कि संगठन को राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगेे मजबूत कर रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष ब्रजलाल खाबरी ने बताया कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार का रवैया पिछड्ऱों के हित में नहीं है। वह नहीं चाहती है कि पिछड़ों को हक मिले। कांग्रेस पार्टी आगे बढ़कर पिछड़ों के साथ खड़ी है। चाहे उसे सुप्रीम कोर्ट तक जाना पड़े। भाजपा सरकार निकाय चुनाव को लटकाना चाहती है। उसने जो स्मार्ट सिटी के नाम पर करोड़ों रुपये का भ्रष्टाचार किया है, उससे जनता खफा है। ऐसे में चुनाव को टालकर पहले उन कामों को कराएगी। उन्हें राहुल गांधी की यात्रा से डर है।

पूर्व सीएलपी लीडर प्रदीप माथुर ने बताया कि मथुरा से करीब दो हजार कांग्रेसी राहुल गांधी की पदयात्रा में तीन जनवरी को लोनी पहुंचेंगे। पत्रकार वार्ता में प्रांतीय अध्यक्ष योगेश दीक्षित, जिला प्रभारी योगेश तालान, श्याम सुंदर उपाध्याय बिटूटू, जिलाध्यक्ष भगवान सिंह वर्मा आदि मौजूद रहे।

पिस्टल प्रकरण ठंडे बस्ते में

मथुरा। पदयात्रा में बड़े नेताओं के सामने हाथापाई और पिस्टल तक लहराने की घटना अब ठंडे बस्ते में चली गई है। प्रदेश अध्यक्ष ब्रजलाल खाबरी ने मामले को यह कह कर पल्ला झाड़ लिया कि बहुत बड़ा परिवार है, मेरे सामने कुछ नहीं हुआ। मामला अनुशासन समिति के पास है। वहीं प्रांतीय अध्यक्ष योगेश दीक्षित ने भी कहा कि जो भी घटना हुई उसके संबंध में अभी किसी को कोई पत्र जारी नहीं हुआ है। मुझे इस बारे में किसी ने बताया भी नहीं। जो भी होगा उसकी जानकारी दी जाएगी। उधर, जिन दोनों पक्षों में स्वागत को लेकर विवाद हुआ था, वह दोनों पक्ष प्रेस वार्ता में पहुंचे और प्रदेश अध्यक्ष ब्रजलाल खाबरी को बुके भी भेंट किए। युवक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष यतेन्द्र मकुद्दम ने बताया कि उनका एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष हरीश पचौरी के साथ कोई विवाद नहीं हुआ। हरीश पचौरी ने भी इसकी पुष्टि की। अशोक चकलेश्वर ने कहा कि मेरा तो झगड़े से कोई वास्ता नहीं था।





Source link

0Shares

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: