[ad_1]

संवाद न्यूज एजेंसी, अमेठी

Updated Tue, 23 May 2023 11:22 PM IST

गौरीगंज (अमेठी)। प्राथमिक शिक्षकों का एक और संगठन (पीएसपीएसए) बीएसए कार्यालय की ओर से जारी मनमानी आदेशों के विरोध में उतर आया है। संगठन जिलाध्यक्ष ने बीएसए को ज्ञापन देकर कई गंभीर सवाल खड़े करने के साथ शिक्षकों का शोषण बंद करने की चेतावनी दी है।

प्राथमिक शिक्षक प्रशिक्षित स्नातक एसोसिएशन (उत्तर प्रदेश) विशिष्ट बीटीसी के जिलाध्यक्ष महेंद्र प्रताप मिश्र ने बीएसए को दिए ज्ञापन में कई गंभीर आरोप लगाए हैं। बीएसए संगीता सिंह को दिए ज्ञापन में कहा गया है कि गत तीन-चार माह से लगातार शिक्षकों का उत्पीड़न किया जा रहा है। मनतानी तरीके से वेतन काटा व रोका जा रहा है। वेतन रोकने की यह स्थिति शासनादेशों के विपरीत है।

अध्यक्ष की ओर से दिए गए ज्ञापन में कहा गया है कि बीएसए कार्यालय के कुछ विशेष कर्मी शिक्षकों से संपर्क साधकर पैसा दो आदेश लो योजना चला रहे हैं। कर्मियों से कहते हैं कि जब अध्यक्ष मंत्री नहीं बच रहे हैं तो आपका क्या होगा। इसलिए शांति से पैसा देकर काम करा लो अन्यथा क्या होगा आपको पता है। एसोसिएशन ने सभी शिक्षकों का अग्रिम आदेश तक अवरुद्ध वेतन बहाल करने, जारी प्रतिकूल प्रविष्टि समाप्त करने व चयन वेतनमान स्वीकृत करने की मांग की है। यह भी कहा है कि उनकी मांगें पूरी हुईं तो संगठन संघर्ष के लिए बाध्य होगा।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *