पटरंगा(अयोध्या)। बुजुर्ग महिलाओं के साथ दुष्कर्म व हत्या जैसी जघन्य वारदात करने वाले सीरियल किलर को सोमवार देर रात मवई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी अमरेंद्र बाराबंकी के असंद्रा थाना क्षेत्र के संडवा गांव का निवासी है। उसे अयोध्या के मवई थाना क्षेत्र के ग्रामीणों ने उस समय पकड़ा जब वह एक महिला के साथ वारदात करने का प्रयास कर रहा था। सूत्रों के अनुसार आरोपी ने अपना अपराध कबूल कर लिया है। पुलिस अब बाराबंकी के घटना वाले स्थानों पर जांच कर रही है।

बाराबंकी जनपद के कोतवाली रामसनेही घाट में दिसंबर माह में दो बुजुर्ग महिलाओं के साथ दुष्कर्म व हत्या की वारदात ने पुलिस समेत आम लोगों को दहला दिया था। जनता ने इसे सीरियल किलर का नाम दिया था। बाराबंकी पुलिस को आरोपी का एक वीडियो मिला था। इस वीडियो में वह जंगल की झाड़ियों में पेड़ के पत्तों के पीछे दिख रहा था। आरोपी की तलाश में करीब डेढ़ माह से बाराबंकी, अमेठी व अयोध्या पुलिस व क्राइम ब्रांच की टीमें लगी हुई थीं। आरोपी के अयोध्या-बाराबंकी सीमा पर मवई व पटरंगा के जंगलों में होने की आशंका जताई जा रही थी। पुलिस इन जंगलों की खाक भी छान रही थी लेकिन आरोपी हाथ नहीं आ रहा था।

अयोध्या के थाना मवई क्षेत्र के हुनहुना गांव के बाहर सोमवार शाम ग्रामीणों ने एक युवक को एक महिला को बेहोशी की हालत में गन्ने के खेत में घसीट कर ले जाता हुआ देखा। ग्रामीणों को देखकर युवक ने भागने का प्रयास किया। ग्रामीणों ने दौड़ाकर उसे दबोच लिया और मवई पुलिस के हवाले कर दिया था। गंभीर रूप से घायल महिला को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था। ग्रामीणों के अनुसार महिला के शरीर पर कई जगह चोट व खरोंच के निशान थे। उन्होंने उसके साथ दुष्कर्म होने की आशंका जताई।

सूत्रों के अनुसार मवई पुलिस को जांच के उसके सीरियल किलर होने का शक हुआ तो उसने बाराबंकी पुलिस से संपर्क साधा। दोनों जनपदों की पुलिस ने जब उससे कड़ाई से पूछताछ की तो आरोपी ने बाराबंकी में हुई दोनों हत्याएं व सोमवार को एक और घटना को अंजाम देने का प्रयास कबूल कर लिया। रुदौली क्षेत्राधिकारी सत्येंद्र भूषण तिवारी ने बताया कि आरोपी की पहचान अमरेंद्र कुमार रावत (24) निवासी सांडवा भेलू कोतवाली असंद्रा जनपद बाराबंकी के रूप में हुई। उन्होंने बुधवार को पूरे मामले का खुुलासा करने की बात कही है।

पटरंगा(अयोध्या)। आरोपी अमरेंद्र जिले की सीमा से सटे कोतवाली रामसनेहीघाट में हुई लगातार वारदातों से कुछ ही दिन पूर्व ही सूरत से वापस आया था। उसके बाद से ही घटनाएं होने लगी। आरोपी की मां का निधन लगभग पांच वर्ष पूर्व हो गया था। ग्रामीण बताते हैं कि इसका मानसिक संतुलन सही नहीं रहता था। वह गांव की महिलाओं के साथ अश्लील हरकतें करते था। लोग उसका मानसिक संतुलन ठीक न समझकर उसे चेतावनी देकर छोड़ देते थे। ग्रामीणों के अनुसार वह गांव में किसी से बात नहीं करता था। न ही घर पर ज्यादा दिन रुकता था। वह कहां आता-जाता था, यह उसके पिता को भी नहीं मालूम था।

सांडवा भेलू के ग्राम प्रधान प्रतिनिधि दारा सिंह वर्मा ने बताया कि आरोपी के चरित्र के विषय में हमें अधिक जानकारी नहीं है क्योंकि यह गांव में बहुत ही कम रहता था। इसे लोग अधिक जानते भी नहीं है। आरोपी के पिता ने बताया कि हमारे बेटे का कोई इस तरह का मामला हमारी जानकारी में नहीं है। इसकी शादी भी हो गई है। फरवरी माह में उसका गौना भी आने वाला था। बताया कि अपनी मां की मृत्यु के बाद यह घर पर कम रहता था।

शव के साथ करता था दुष्कर्म

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सिरीयल किलर की विकृत मानसिकता का हाल यह था कि उसने महिलाओं की हत्या के बाद शव के साथ दुष्कर्म किया। एक वृद्घा के साथ जबरदस्ती करने का एक वीडियो पुलिस के हाथ लगा था। यह वीडियो रामसनेहीघाट के दयरामपुरवा गांव का था।

पिता ने की तीन शादी, नहीं गया स्कूल नहीं

बाराबंकी। सीरियल किलर असंद्रा थाना क्षेत्र के ग्राम सड़वाभेलू का निवासी है। उसके पिता सालिकराम ने तीन शादियां की थीं। पहली पत्नी के छोड़ के जाने के बाद दूूसरी पत्नी से अमरेंद्र पैदा हुआ मगर अमरेंद्र के बचपन में ही उसकी मां का निधन हो गया। इसके बाद अमरेंद्र के पिता ने तीसरी शादी की जिससे एक पुत्र व एक पुत्री हैं। हैरत वाली बात यह है कि घर के सामने स्कूल होने के बाद भी अमरेंद्र कभी स्कूल नहीं भेजा गया। वह बचपन से ही बकरी चराता था। पांच साल पहले अमरेंद्र का विवाह हो चुका है। तीन साल पहले अपने दादा रामधीरज के साथ सूरत गया था। बीते तीन दिसंबर को ही वह सूरत से वापस लौटा था। ग्रामीण बताते हैं कि इसका मानसिक संतुलन सही नहीं रहता था। वह गांव की महिलाओं के साथ अश्लील हरकतें करते था। लोग उसका मानसिक संतुलन ठीक न समझकर उसे चेतावनी देकर छोड़ देते थे। वह गांव में किसी से बात तक नहीं करता था।

महिला की संदिग्ध मौत भी हत्या तो नहीं थी

जुलाई 2022 में एक गांव में खेतों के पास महिला की संदिग्ध हालात में मौत हुई थी मगर परिजनों ने पोस्टमार्टम के बगैर अंतिम संस्कार कर दिया। सीरियल किलर के पकड़े जाने के बाद ग्रामीण इस घटना को लेकर भी चर्चा कर रहे हैं।



Source link

0Shares

Leave a Reply

ताज़ा ख़बरें

%d bloggers like this: