[ad_1]

Railway worker strangled to death in Gorakhpur

गोरखपुर में हत्या
– फोटो : अमर उजाला।

विस्तार

गोरखपुर जिले में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां गोरखनाथ क्षेत्र के दिग्विजयनगर, वजीराबाद कॉलोनी में बुधवार की रात रेलकर्मी अफरोज आलम (50) की गला रेतकर हत्या कर दी गई। हत्या की सूचना पर पहुंची पुलिस मौके पर पहुंची तो शव खून से लथपथ बेड के नीचे फर्श पर पड़ा हुआ था। पुलिस संदेह के आधार पर मृतक की पत्नी और मकान में रह रहे 15 किराएदारों को हिरासत में ले लिया है। मृतक के भाई ने पुलिस को तहरीर देकर पत्नी और अपने प्रेमी पर हत्या की आशंका जताई है।

जानकारी के मुताबिक, गोरखनाथ क्षेत्र के जटेपुर उत्तरी निवासी अफरोज आलम अंसारी पुत्र स्वर्गीय अनवर अली रेलवे में सीनियर टेक्नीशियन पर नौकरी करते थे। वह वर्ष 2012 में दिग्विजयनगर, वजीराबाद कॉलोनी में जमीन लेकर चार मंजिला आलीशान मकान बनवाकर पत्नी सादिया अंसारी के साथ रहते थे। उनको कोई बच्चा नहीं था।

मकान के नीचे कमरे में वह रहते थे जबकि तीन फ्लोर पर स्थित करीब 20 कमरों को किराए पर दे रखे थे। पत्नी सादिया ने रात तकरीबन 2 बजे अफरोज के भाई जावेद अंसारी के मोबाइल पर फोन कर हत्या की जानकारी दी। जावेद अपने अन्य भाइयों के साथ मौके पर पहुंचे तो कमरे की लाइट बंद थी।

लाइट जलाने पर अफरोज का शव बेड से नीचे फर्श पर खून से लथपथ पड़ा हुआ था। उनकी गला रेत कर बर्बरता पूर्वक हत्या की गई थी। इस बीच पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने घटनास्थल की जांच के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

पांच भाइयों में बड़ा था अफरोज

अफरोज पांच भाइयों में सबसे बड़ा था। फिरोज, परवेज, सब्बु और जावेद जटेपुर उत्तरी स्थित पुराने मकान पर परिवार के साथ रहते हैं।

[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *